blogid : 316 postid : 1368655

ऐसी फोटो या वीडियो से हो रहे हैं ब्‍लैकमेल, तो तुरंत उठाएं ये जरूरी कदम

Posted On: 17 Nov, 2017 Social Issues में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

सोशल मीडिया के तमाम फायदे हैं, तो कुछ नुक‍सान भी हैं। व्‍हाट्सऐप, फेसबुक समेत अन्‍य सोशल मीडिया प्‍लेटफॉर्म पर भेजी गई एक फोटो भी कभी-कभी किसी के लिए खतरनाक हो जाती है। बहुत आसानी से कोई भी किसी को एक फोटो के चलते ब्लैकमेल कर सकता है। आए दिन ऐसे मामले सामने भी आते रहते हैं। कुछ मामलों में तो जान-पहचान वाले भी ऐसा करते हैं। ऐसी घटना के समय आमतौर पर पीड़ित चुप रहकर वो सब कुछ सहता है, जो उसे नहीं सहन करना चाहिए। कुछ लोग बदनामी, तो कुछ जानकारी के अभाव में ब्‍लैकमेलर का शिकार होते रहते हैं। मगर यदि आप ऐसी किसी घटना का शिकार होते हैं, तो चुप नहीं रहना चाहिए, बल्कि कुछ जरूरी कदम तुरंत उठाने चाहिए। आइये आपको बताते हैं कि सोशल मीडिया के माध्‍यम से ब्‍लैकमेल किए जाने की घटना का शिकार होते हैं, तो आपको कौन से जरूरी कदम तुरंत उठाने चाहिए।


blackmail


घरवालों और दोस्‍तों की लें मदद

ऐसी किसी भी स्थिति में फंसने पर सबसे पहले घर वालों को बताएं। अगर उन्‍हें नहीं बता सकते, तो किसी दोस्त या सलाहकार की मदद लें। सिर्फ एफआईआर करवाने से ही काम नहीं बनेगा। कानूनी सलाह लेना भी जरूरी होता है। इसके अलावा घरवालों या दोस्तों को बताने से आपकी टेंशन कुछ हद तक कम हो जाएगी और समस्या का बेहतर हल निकलेगा।


blackmail1


एफआईआर में न करें देरी

ऐसे मामलों में आमतौर पर देखा जाता है कि लोग एफआईआर या महिला हेल्पलाइन को कॉल नहीं करते। मगर ऐसा नहीं करना चाहिए, क्‍योंकि एफआईआर न करना पीड़ित के लिए खतरनाक साबित हो सकता है। सोशल मीडिया पर भेजी गई फोटो से ब्‍लैकमेल होने की स्थिति में एफआईआर तुरंत कराएं। लोग बदनामी होने के डर से इस तरह की घटनाओं में एफआईआर नहीं कराते, जबकि ऐसा नहीं होता है। प्रोफेशनल लोगों के पास आए दिन ऐसे केस आते हैं और वे उनकी गोपनीयता रखते हैं। इस वजह से एफआईआर तुरंत कराएं।


मैसेज न करें डिलीट

ब्‍लैकमेल होने की दशा में आप अपने द्वारा भेजा गया मैसेज डिलीट न करें। वहीं, यदि ब्लैकमेलर ने मैसेज किया है, तो उसे भी डिलीट न करें। कॉल रिकॉर्ड भी डिलीट न होने दें, क्‍योंकि रिपोर्ट दर्ज होने के बाद ये चीजें अहम सबूत के तौर पर मानी जा सकती हैं।


mobile


जरूर लें स्क्रीनशॉट

ऐसी घटनाओं में अक्सर देखा जाता है कि ब्लैकमेलर अगर सोशल मीडिया के जरिए अपना काम कर रहा है, तो वह फेक अकाउंट से ऐसे काम को अंजाम देता है। अपनी करतूत में सफल होने या केस दर्ज होने की स्थिति में ये फेक अकाउंट डिएक्टिवेट कर दिए जाते हैं और बाद में चैट नहीं दिखती। ऐसे में उस अकाउंट का स्क्रीनशॉट जरूर ले लें। स्‍क्रीनशॉट लेने के दौरान इस बात का ध्‍यान अवश्‍य रखें कि स्क्रीन शॉट के साथ टाइम और डेट स्टैम्प भी आ जाए।


ब्‍लैकमेलर की मांग न करें पूरी

ब्लैकमेलर अगर कोई मांग करता है, तो उसे तुरंत मान लेने की गलती कभी न करें। क्‍योंकि वह सिर्फ डर का फायदा उठाता है। ऐसे में यदि एक बार डरकर उसकी मांग मान ली, तो आगे भी यह सिलसिला जारी रहेगा। इस वजह से उसकी किसी भी मांग को पूरा न करें…Next


Read More:

Instagram पर एक पोस्ट से कोहली कमाते हैं 3 करोड़, जानें बाकी सितारों की सोशल मीडिया से कमाई
प्रथम श्रेणी क्रिकेट में यूसुफ ने बनाया है विश्व रिकॉर्ड, करोड़ों के बंगले के हैं मालिक
2018 में इतने स्टार किड्स बॉलीवुड में करेंगे डेब्यू! लॉन्चिंग से पहले हो चुके हैं मशहूर



Tags:                                 

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran