blogid : 316 postid : 1314438

‘दूसरी लड़कियों के लिए खतरा है ये तीन लड़कियां!’ गाना गाने के बदले देश में झेलना पड़ा ऐसा घिनौना विरोध

Posted On: 15 Feb, 2017 Social Issues में

Pratima Jaiswal

  • SocialTwist Tell-a-Friend

सोचिए, आपको डांस करने का पैशन है. आप दिन रात बस, डांसर बनने का सपना देखते हैं. आपको लगता है एक दिन आप किसी बड़े मंच पर देश के लिए परफॉर्म करेंगे और एक दिन आपको वो मौका मिल जाता है, लेकिन जब आप स्टेज पर पूरी तैयारी के साथ जाते हैं, तो बीच में ही कोई आपको रोककर कहता है ‘तुम इस जाति के हो या तुम्हारा नाम ये है, इसलिए तुम्हें डांस नहीं कर सकते’ सोचिए, इस बेतुकी सी बात पर आपको कितना गुस्सा आएगा. ऐसा ही कुछ हकीकत में हुआ हमारे देश में. जहां पर लड़कियों को गाने के लिए इसलिए मना कर दिया गया क्योंकि वो कश्मीरी मुस्लिम लड़कियां थीं.


band

देश का पहला लड़कियों का बैंड जिसे बनाया और तोड़ना पड़ा

‘प्रगाश’ बैंड, संस्कृत में प्रगाश का मतलब है रोशनी. 10 दिसम्बर 2012 का दिन जब कश्मीर की 3 मुस्लिम लड़कियों ने अपना ‘प्रगाश’ बैंड बनाया. इससे पहले इन तीन लड़कियों ने स्कूल के कई इंवेट में साथ में परफॉर्म किया था, लेकिन 10 दिसम्बर 2012 में नोमा नाजिर, फराह दीबा और अनिका खालिद का बनाया हुआ ये बैंड सुर्खियों में उस वक्त आ गया, जब श्रीनगर में ‘बैटल ऑफ बैंड्स’ नाम की प्रतियोगिता में इन्होंने दमदार परफॉर्मेंस दी. इसी दिन ‘प्रगाश’ को एक नई पहचान मिली. इस मुकाबले में बैंड ने ‘बेस्ट परफॉर्मेंस’ अवार्ड अपने नाम किया. इस बैंड की खासियत थी कि इसमें गानों की नई धुन तीनों बनाकर बनाते थे. नोमा गाने के साथ गिटार बजाती थी, फराह ड्रम और अनिका बेस गिटार बजाती थी.


band 1

मिलने लगी रेप, हत्या की धमकियां

अपने एक इंटरव्यू में बैंड की इन लड़कियों का कहना था कि श्रीनगर में दी गई इस परफॉर्मेंस के बाद से उन्हें सोशल मीडिया पर ट्रोल किया जाने लगा. उन्हें अक्सर अनजानी फोन कॉल्स आने लगी. फोन करने वाले लोग उन्हें गालियां देते हुए रेप करने और जान से मार डालने की धमकी देते थे.


band 2


‘नाच-गाना बंद करो वरना रेप करके देंगे सजा’

उनके मुताबिक मुस्लिम कट्टरपंथियों का गुस्सा इस बैंड को लेकर इतना ज्यादा उबल उठा था कि उन्हें अक्सर ऐसे फोन आते, जिसमें उनसे कश्मीरी मुस्लिम लड़की होकर दुनिया में ऐसा काम करने पर शर्मिदा होने के लिए कहा जाता. एक बार एक फोन कॉल आया, फोन उठाते ही उधर से आवाज आई ‘तुम्हें शर्म नहीं आती, इस्लाम का अपमान करते हुए, कश्मीरी मुस्लिम लड़कियां होकर सबके सामने नाच-गाना करती हो? सुधर जाओ..बंद करो ये सब वरना रेप करके तुम्हें सबक सिखाना होगा और अगर उससे भी नहीं मानी तो जान लेनी होगी तुम लड़कियों की. ऐसी धमकियों के बाद लड़कियों के घरवाले बुरी तरह डर गए. तीनों के घरवालों ने पुलिस में जाकर एफआरआई दर्ज करवाई, लेकिन धमकियों का अंत यहां नहीं हुआ.


hijaab


कश्मीरी मुफ्ती ने जारी किया फतवा

कश्मीरी मुफ्ती ने सार्वजनिक रूप से बैंड की आलोचना की और इसे गैर इस्लामिक गतिविधि करार दिया. इसके साथ ही लड़कियों के लिए फतवा जारी किया. कट्टरवादियों ने लड़कियों का विरोध किया और इसे कश्मीरी युवतियों के लिए एक खतरा बताया.


dangal


…और इस तरह टूट गया बैंड

बैंड का साथ तत्कालीन मुख्यमंत्री उमर अब्दुला ने भी दिया, लेकिन 29 फरवरी 2013 को बैंड को खत्म कर दिया गया. इसके बाद से तीनों ने कहीं कोई परफॉर्मेंस नहीं दी.


किसी की उम्मीदों को तोड़ने के लिए उसका हौंसला तोड़ना पड़ता है. कुछ ऐसा ही ‘प्रगाश बैंड’ के साथ किया गया. कश्मीर में ये पहला मामला नहीं है, वहां से जब भी कोई प्रतिभा निकलती है, उसका दमन शुरू हो जाता है. अभी हाल ही में ‘दंगल’ गर्ल जायरा वसीम के साथ भी ऐसा ही मामला देखने को मिला था. जब उन्हें रोल मॉडल कह देने के बाद से उनकी कड़ी आलोचना शुरू हो गई थी…Next


Read More :

वो इन बदनाम गलियों में आते ही क्यों हैं?

‘देवदास’ की पारो असल जिंदगी में थी इनकी दोस्त, ऐसे लिखी गई उन बदनाम गलियों में घंटों बैठकर ये कहानी

शोएब से पहले इनकी बीवी बनने वाली थी सानिया, लेकिन हो गई ये गड़बड़



Tags:                       

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran