blogid : 316 postid : 911322

पति की सलामती के लिए महिला ने किया ये साहसिक काम

Posted On: 20 Jun, 2015 Others में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

चारों तरफ रिश्तों को तार-तार करने वाली खबरे सुनकर मन में कई तरह के विचार आते हैं. स्वार्थी दुनिया में हर रिश्तों को स्वार्थ के चश्मे से देखना अब लोगों की फितरत बन गई है. ऐसे वक्त में यदि रिश्तों में अटूट प्रेम और समर्पण देखना है तो मिलिए इस मर्दानी महिला से जिसने नियति और दुखों के आगे अपने घूटने नहीं टेंके. अपने पति के साथ सात फेरों के सातों वचन निभाने वाली इस महिला ने कुछ ऐसा किया कि लोग इसे मर्दानी कहने लगे.


2_

यह कहानी एक पतिव्रता और कभी न हार मानने वाली महिला की है. मुकद्दर ने इस महिला पर जमाने के सारे सितम किए और महिला ने सबका जवाब अपने मजबूत इरादों से दिया. इंदौर के एमवाय अस्पताल में यह पत्नी अपने बीमार पति को कंधे पर बैठाकर कहीं ले जा रही थी.


Read: प्रेमी के साथ पत्नी को रंगे हाथ पकड़ने के लिए पति ने अपनाया यह टोटका!


महिला अपने पति को कंधे पर बैठाकर इलाज़ के लिय ले जाती है. आस-पास के लोग महिला को बहुत हैरानी भरी नजरों से देखते हैं पर कोई भी इनकी पीड़ा जानने के लिए आगे नहीं आता है. महिला का पति टीबी जैसे कई अन्य गंभीर बीमारियों से पीड़ित है. पैसे की तंगी के कारण ये महिला कई दिनों से इसी तरह पति को अपने कंधे पर बैठाकर अस्पताल ले जाती रही. निश्चित रूप से यह महिला समाज के लिए एक उदहारण है, साथ ही यह घटना समाज के संवेदनहीन चेहरे को बेनकाब भी करती है.


jagran


आगर के मालीखेड़ी नामक गांव की निवासी रमाबाई के पति रमेश गंभीर बीमारियों से पीड़ित हैं. गंभीर बीमारियों के कारण आगर के जिला अस्पताल के डाक्टरों ने इन्हें इंदौर के एमवाय अस्पताल में दिखाने की सलाह दी थी. तब रमाबाई अपने बीमार पति को इंदौर लेकर आईं. कमजोरी के कारण उनके पति पैदल नहीं चल पा रहे थे. रमाबाई मेहनत-मजदूरी करके किसी तरह दिन काटती हैं. ऐसे में रमाबाई के पास रिक्शे के पैसे कहाँ से आए जिससे वह अपने पति को अस्पताल तक ले जा सकें.


Read: पत्नी का गुस्सा दूर भगाएगा यह नुस्खा


असहाय महिला बहुत देर तक बस स्टैंड पर पति के साथ बैठी रही, लेकिन जब कोई मदद के लिए नहीं आया तो यह साहसी महिला ने अपने पति को कंधे पर बैठाकर अस्पताल ले गई. वहाँ जरूरी जांच करने के बाद महिला पुन: अगले दिन अपने पति के साथ अस्पताल पहुंची. महिला का कहना है कि यदि वह रिक्शा से जाती तो धर्मशाला में रुकने के लिए पैसे नहीं बचते.Next…


Read more:

पत्नी की जिद मानने वाले पुरुष होते हैं ज्यादा संतुष्ट !!

विवाहित पुरुष रहते हैं ज्यादा स्वस्थ

5 पत्नी, 7 मंगेतर और 5 गर्लफ्रेंड वाले धोखेबाज मर्द का हुआ भंडाफोड़



Tags:                             

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran