blogid : 316 postid : 773221

वह 9 महीने तक अपने पति की लाश के साथ रहकर उसके सड़ने का इंतजार करती रही... यह मजबूरी थी या पागलपन!!

Posted On: 12 Aug, 2014 social issues में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

मरने से पहले इंसान की आखरी इच्छा पूछी जाती है और कायदे से उसे पूरा करना भी आवश्यक होता है लेकिन वो आखरी इच्छा जब बेहद विचित्र हो तो क्या किया जाए. उस पति ने मरते समय अपनी पत्नी से जो मांगा वो बेहद हैरान करने वाला था लेकिन फिर भी अपने पति की उस आखरी इच्छा का सम्मान करते हुए पत्नी ने वो सब किया जो वो चाहता था.


Ila and Geven


इला सोलोमन, 54 वर्षीय एक महिला है जिस पर अपने पति के मृत शव को 9 महीनों तक घर के भीतर रखने का आरोप लगाया गया है. पुलिस ने जब उससे ऐसा करने का कारण पूछा तो जो उसका जवाब हैरान करने वाला था.


क्या है रहस्य?


बंद घर के उस कमरे में से बेहद बदबूदार गंध आ रही थी और जब अंदर जाकर देखा गया तो फर्श पर एक शव पड़ा था जिसे देखकर साफ ज्ञात हो रहा था कि यह इंसान बहुत समय पहले ही मर चुका है. यह अमेरिकी सेना के एक पूर्व जवान गेराल्ड गेवेन का शव था जिसकी मृत्यु कब और क्यों हुई इसका पता तो पुलिस नहीं लगा सकी लेकिन पूछताछ व जांच-पड़ताल के बाद एक बात सामने आई है कि इस बारे में उसकी पत्नी इला सब कुछ जानती थी.


geven body


Read More: क्या आपको यह चेहरा डरावना लगता है…अपने ही चेहरे से डरने वाली एक बच्चे की मार्मिक कहानी


इला का कहना है कि उसके पति की एक आखरी इच्छा थी जिसे पूरा करने के लिए उसने अपने पति की लाश को घर पर ही रखा. इला ने कहा कि ‘गेवेन ने भारत में प्रचलित एक प्रथा के बारे में सुना था जिसके अनुसार मरने के बाद मृत व्यक्ति के शव को ऊंची पहाड़ी पर पंछियों द्वारा खाने के लिए छोड़ दिया जाता है. इस प्रथा से प्रेरित होकर गेवेन ने मुझसे भी ऐसा करने के कहा था. एक पल तो मुझे यह सब बहुत अजीब लगा, लेकिन अपने पति की इस इच्छा को पूरा करना मैंने अपना धर्म समझा’.


इला ने पुलिस को बताया कि वो पहले गेवेन के मृत शरीर को बाहर खुले में छोड़ने की सोच रही थी लेकिन वो ऐसा ना कर सकी इसलिए उसने कमरे का एक दरवाजा खुला छोड़ दिया ताकि पंछी अंदर आ सकें और उसके शरीर को खा सकें.


कैसे हुई उसकी मौत


पुलिस व अधिकारियों द्वारा हुई जांच-पड़ताल में यह पता लगाया गया है कि गेवेन का शव पिछले 9 महीनों से घर के अंदर पड़ा था लेकिन इला के अनुसार गेवेन को मरे हुए केवल 5 ही दिन हुए हैं. अभी तक पुलिस को गेवेन के मरने का कारण पता नहीं लगा है लेकिन इला के अनुसार उसके पति की मृत्यु दौरा पड़ने से हुई है. जिस समय गेवेन की मृत्यु हुई वो 88 वर्ष का था.


Ila Solomon


Read More: जीना तो इनके लिए एक अभिशाप है ही, मरना भी सुकून से बहुत दूर है…किन्नरों की एक अजीब रस्म जो इंसानी रस्मों से बहुत दूर है


गेवेन के पंछियों द्वारा खाए जाने की बात वहां से बरामद एक वसीयत में भी लिखी हुई है जिससे यह साबित होता है कि इला ने जो कुछ भी किया अपने पति के कहने पर किया लेकिन कानून की नजर में यह अपराध है और इसकी सजा उसे भुगतनी होगी.


इच्छाओं या अपराध से परे यह घटना बहुत विचित्र थी, सोच कर भी रोंगटे खड़े हो जाते हैं कि कोई कैसे अपने पति की लाश को बेजिझक घर पर सड़ने के लिए छोड़ सकता है? क्या गेवेन की पत्नी नहीं चाहती थी कि उसके पति को इस दुनिया से पूरे रीति रिवाज के साथ अलविदा कहा जाए ताकि उसकी आत्मा शांति के साथ अपने स्थान पर पहुंच सके या फिर यह अपने पत्नी धर्म को निभाते हुए उसने अपने मृत पति की इच्छा को पूरा करने की कोशिश की जो उसके समर्पण को दर्शाता है?


Read More: बारह साल की मासूम घर से दूर घने जंगलों में चाकुओं से गोद डाली गई, पढ़िए एक बच्ची का दिल बदलने की हृदयविदारक कहानी

एक अविश्वसनीय बच्चे के जन्म पर पूरी दुनिया में बहस छिड़ गई है, आखिर क्यों सवाल बन गया यह बच्चा?

पांच साल बाद तालिबानियों की गिरफ्त से बाहर निकला एक फौजी नहीं बोल पा रहा है अपनी मातृभाषा, पढ़ें एक दर्दनाक कहानी

Web Title : widow lived with husband's corpse for nine months



Tags:                                                             

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 4.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran